advertisement

Thursday, 29 December 2016

Sankatmochan Hanumanashtak in Hindi and Bajrang Baan in Hindi | हर समस्या का अचूक समाधान


Sankatmochan Hanumanashtak Benefites in Hindi

Sankatmochan Hanumanashtak in Hindi  में  होने का फायदा ये है कि हम हनुमान जी की अनन्य भक्ति आसानी से कर सकते हैं और जो हमारे सारे संकट को पल भर में खत्म कर देते है,

कहते है कि हनुमान जी कलयुग में विदमान देव जाने जाते है, और वो अपने भक्तों की विनती सुन कर उनकी सारी समस्या का निवारण करते है 


आज की भाग दौड़ की ज़िन्दगी में लोगो के पास हजारों समस्याए होती है, पर समाधान नहीं होते हैलेकिन ये उम्मीद होती है, कि हमारी समस्या का निवारण हमारे इष्ट देव जरुर करेंगे पर हमारे पास समय रहते हुए भी मन्त्र और शास्त्रीय विधि के अभाव हम अपने इष्ट देव की आराधना नही कर पाते है और उलझनो में उलझते  हैं

sankatmochan mahabali hanuman अपने भक्तो की हर उम्मीद को पूरा करते है, उनके लिए कहा जाता है कि ''और देवता चित ना धरहिं हनुमत सेई सर्व सुख करहिं ''  जब भक्तों को सब जगह  से उम्मीद हो जाती है, तभी  संकट मोचन हनुमान जी उनका साथ नहीं छोड़ते इस लिए श्री राम जी ने उन्हें चिरंजीवी होने का वरदान दिया था, कि वे भक्तो की युग-युगांतर तक सहायता करे और उन्हें अभय प्रदान करें 

Sankatmochan Hanumanshatak Hindi में पड़ने से हनुमान जी की असीम कृपा हम पर बनी रहती है

और  Shri Sankamochan Hanumaanashatak  in Hindi में पढ़ने के लिए अपने mous से right click download करके पढ़ सकते है, और अप अपनी सुविधा के अनुसार अपने ब्राउजर में bookmark कर सकते हैं

Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi/ संकटमोचन hanumaanast 

बाल समय रवि भक्षी लियो तब, तीनहुं लोक भयो अँधियारो I
ताहि सो त्रास भयो जग को, यह संकट काहू सो जात न टारो II
देवन आनि करी बिनती तब, छाड़ दियो रवि कष्ट निवारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II

 Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi | Bajrang Baan in Hindi


बालि की त्रास कपीस बसे गिरि, जात महा प्रभु पंथ निहारो I
चौंकि महा मुनि श्राप दियो तब, चाहिये कौन बिचार बिचारो II
कै द्विज रूप लिवाय महाप्रभु, सो तुम दास के शोक निवारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II


अंगद के संग लेन गये सिया, खोज कपीस यह बैन उचारो I
जीवत ना बचिहौ हम सो जो, बिना सुधि लाये यहाँ पगु धारौ II
हेरि थके तट सिन्धु सबै तब, लाये सिया सुधि प्राण उबारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II

Sankat Mochan Hanuman Ashtak Benefits


 Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi | Bajrang Baan in Hindi


रावण त्रास दई सिया को तब, राक्षसि सों कहि शोक निवारो I
ताहि समय हनुमान महाप्रभु, जाय महा रजनी चर मारो II
चाहत सिया अशोक सों आगि सु, दें प्रभु मुद्रिका शोक निवारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II


बाण लाग्यो उर लक्ष्मण के तब, प्राण तज्यो सुत रावण मारो I
ले गृह वैद्य सुषेन समेत, तबै गिरि द्रोण सो वीर उपारो II
आनि सजीवन हाथ दई तब, लक्ष्मण के तुम प्राण उबारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II


 Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi | Bajrang Baan in Hindi

Bajrang Baan in Hindi


रावण युद्ध अजान कियो तब, नाग कि फाँस सबै सिर दारो I
श्री रघुनाथ समेत सबै दल, मोह भयो यह संकट भारो II
आनि खगेस तबै हनुमान जु, बंधन काटि सुत्रास निवारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II


बंधु समेत जबै अहिरावण, लै रघुनाथ पातळ सिधारो I
देविहिं पूजि भलि विधि सो बलि, देउ सबै मिलि मंत्र विचारो II
जाय सहाय भयो तब ही, अहिरावण सैन्य समेत संघारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II


 Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi | Bajrang Baan in Hindi


काज किये बड़ देवन के तुम, वीर महाप्रभु देखि बिचारो I
कौन सो संकट मोर गरीब को, जो तुम सों नहिं जात है टारो II
बेगि हरो हनुमान महाप्रभु, जो कछु संकट होय हमारो I
को नहीं जानत है जग में कपि, संकट मोचन नाम तिहारो II

दोहा

Sankat Mochan Paath in Khadi Boli 


 Sankatmochan Hanumanashtak in HIndi | Bajrang Baan in Hindi


लाल देह लाली लसे ,अरु धरि लाल लंगूर I
बज्र देह दानव दलन,जय जय जय कपि सूर II





आशा करती हूँ कि आपके लिए पोस्ट ये उपयोगी होगा संकटमोचन महाबली हनुमान जी की भक्ति करने और अपनी समस्याओं से निजाद पाने में और आप अपने सुझाव और अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स में  दे सकते है हमारे लिए आपके सुझाव और विचार महत्वपूर्ण हैं

श्री  हनुमते  नमः

इतिशुभं 

Share:

0 comments:

Post a Comment